यूपी विधानसभा में योगी ने विपक्ष को 'गुंडा' कहा, जवाब में सीएम को कहा गया 'लोकल डॉन'

यूपी विधानसभा में योगी ने विपक्ष को 'गुंडा' कहा, जवाब में सीएम को कहा गया 'लोकल डॉन'
Politics

यूपी विधानसभा में योगी ने विपक्ष को 'गुंडा' कहा, जवाब में सीएम को कहा गया 'लोकल

2019-02-07 11:45:51

अभिभाषण के दौरान सपा, बसपा और कांग्रेस विधायकों ने नारेबाजी करते हुए राज्यपाल पर कागज के गोले फेंके, 

खास बातें

  1. योगी ने विपक्ष की निंदा करते हुए कहा कि राज्यपाल के सामने गुंडागर्दी की
  2. सपा के एमएलसी ने कहा- मुख्यमंत्री 'लोकल डॉन' की तरह बात करते हैं
  3. विधानसभा के बाहर भी सपा–बसपा के विधायकों ने प्रदर्शन किया

लखनऊ: 

यूपी विधानसभा सत्र के पहले दिन सीएम योगी ने विपक्ष को “गुंडा” कहा और विपक्ष ने उन्हें “लोकल डॉन.” योगीविधानसभा के अंदर-बाहर विपक्ष के प्रदर्शन से नाराज थे और विपक्ष उनकी ज़ुबान से. विपक्ष ने प्रदर्शन कर सरकार पर कानून व्यवस्था,बेरोजगारी, किसानों की बदहाली और सीबीआई–ईडी के दुरुपयोग के इल्जाम लगाए.

राज्यपाल के अभिभाषण के बीच सपा, बसपा और कांग्रेस के विधायक वेल में जाकर नारेबाजी करते हुए राज्यपाल पर कागज के गोले फेंकते रहे. सीएम ने विपक्ष के प्रदर्शन को गुंडागर्दी कहा.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस के सदस्यों ने जो आचरण, जिस प्रकार की अनुशासनहीनता, जिस प्रकार की उद्दंडता, जिस प्रकार की गुंडागर्दी राज्यपाल के सामने की है, हम सब उसकी निंदा भी करते हैं.

इससे पहले विधानसभा के बाहर भी सपा–बसपा के विधायकों ने प्रदर्शन किया. वे खराब कानून व्यवस्था, सांप्रदायिकता, किसानों की बदहाली, बेरोजगारी और सीबीआई, ईडी के दुरुपयोग के मुद्दों पर नारेबाजी कर रहे थे. योगी के बयान से विपक्ष खफा है.

योगी आदित्यनाथ बोले, बंगाल में भाजपा की सरकार बनी तो टीएमसी के गुंडे गली में तख्ती लटकाकर घूमेंगे

समाजवादी पार्टी के एमएलसी उदयवीर सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री जब 'लोकल डॉन' की तरह बात करते हैं, अमर्यादित शब्द प्रयोग करते हैं. सदन के सदस्य की बात अगर सरकार नहीं सुनेगी तो जिस तरह अपनी बात कह सकते हैं कहेंगे. जितने भी कगज उन्हें दिए गए हैं..उन कागजों में क्या लिखा है, उनको खोलकर देखिए.

ममता ने नहीं दी हेलीकॉप्टर उतारने की मंजूरी तो CM योगी ने फोन से किया रैली को संबोधित

कांग्रेस के एमएलसी दीपक सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री जी स्वयं ठोकने की बात करते हैं, पीटने की बात करते हैं. उनके मुंह से दूसरे लोगों को गुंडा और मवाली कहना शोभता नहीं है.