पहले ही दिन दिखे CJI रंजन गोगोई के सख्त तेवर, कांग्रेस की सोशल मीडिया हेड दिव्या स्पंदना ने दिया इस्तीफा, पढ़ें दिन भर की 5 बड़ी खबरें...

पहले ही दिन दिखे CJI रंजन गोगोई के सख्त तेवर, कांग्रेस की सोशल मीडिया हेड दिव्या स्पंदना ने दिया इस्तीफा, पढ़ें दिन भर की 5 बड़ी खबरें...
Politics

पहले ही दिन दिखे CJI रंजन गोगोई के सख्त तेवर, कांग्रेस की सोशल मीडिया हेड दिव्य

2018-10-03 11:43:24

नई दिल्ली: देश के प्रधान न्यायाधीश पद की शपथ लेने के बाद पहले ही दिन जस्टिस रंजन गोगोई के सख्त तेवर देखने को मिले. उन्होंने स्पष्ट कर दिया कि सुप्रीम कोर्ट में तभी जल्द सुनवाई के लिए आ सकते हैं, जब किसी को फांसी होने वाली हो, कोई मरने वाला हो या फिर कोई डिमोलेशन जैसी कार्रवाई का मामला हो. CJI के इस सख्त रुख को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने गौतम नवलखा मामले में जल्द सुनवाई की मांग करने का फैसला टाल दिया. उधर, प्रधानंमत्री नरेंद्र मोदी को दिल्ली में आयोजित एक विशेष समारोह में संयुक्त राष्ट्र के सर्वोच्च पर्यावरण पुरस्कार 'चैंपियंस ऑफ अर्थ द अवार्ड'  से सम्मानित किया गया.  वहीं, कांग्रेस की सोशल मीडिया हेड दिव्या स्पंदना उर्फ राम्या ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. सूत्रों की मानें तो हेड के तौर पर कांग्रेस की सोशल मीडिया रहीं दिव्या ने राहुल गांधी को अपना इस्तीफा भेजा है. बताया जा रहा है कि वह तीन दिन से दफ्तर नहीं गई हैं.  उधर, प्रेस ब्रीफिंग के दौरान भारतीय वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने कहा कि दसॉल्ट को ऑफसेट साझेदार का चयन करना था और इसमें सरकार, भारतीय वायु सेना की कोई भूमिका नहीं थी. वहीं, आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थियों की लिस्ट में गड़बड़ी सामने आने लगी है. यूपी में योगी आदित्यनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री सतीश महाना के पूरे परिवार को आयुष्मान योजना के लाभार्थी के तौर पर दर्शा दिया गया.
 

1. CJI के रूप में जस्टिस रंजन गोगोई का पहला दिन- खारिज की बीजेपी नेता की याचिका, दिए अहम निर्देश
 

fupae7lc

 


नई दिल्ली: देश के प्रधान न्यायाधीश पद की शपथ लेने के बाद पहले ही दिन जस्टिस रंजन गोगोई के सख्त तेवर देखने को मिले. उन्होंने स्पष्ट कर दिया कि सुप्रीम कोर्ट में तभी जल्द सुनवाई के लिए आ सकते हैं, जब किसी को फांसी होने वाली हो, कोई मरने वाला हो या फिर कोई डिमोलेशन जैसी कार्रवाई का मामला हो. CJI के इस सख्त रुख को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने गौतम नवलखा मामले में जल्द सुनवाई की मांग करने का फैसला टाल दिया. वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने 6 रोहिंग्या को डिपोर्ट करने का मामला उठाया तो CJI ने कहा कि पहले याचिका दाखिल करें फिर देखेंगे.

 

 

source:-- https://khabar.ndtv.com/news/india/cji-ranjan-gogoi-supreme-court-pm-modi-united-nation-divya-spandana-ayushman-bharat-bs-dhanoa-rafale-1926147?pfrom=home-trending